good thinking  

Advertisements

My books are free online

read 'THE TOOLSHED' @bookrix click here download pdf or other formats click here (hard copy available soon at pothi.com) read Maniac's Mirror free @bookrix download pdf or other formats (hard copy available soon at pothi.com)  

तपाअग्नि

मेरी दुनिया में तुम्हें जो पहचानेगा तुम्हें पागल मानेगा भेज देगा वहाँ जहाँ तुम्हें और कोई नही मिलेगा जब हवाएँ रुकेंगी मैं तुम्हें वापस ले आऊंगा बुद्धिमान और बलवान बन के अपनी दुनिया मैं लौटोगे और जब तक सागर ना सूख जायें तुम ही राज करोगे सोंच को हक़ीकत बनाना, हक़ीकत को सोंच नही सपनों का [...]

निरात्मा  

 रात के पहले पहर में वो बड़ा हुआ दूसरे में मरा तीसरे में पिता बना चौथा कभी ख़त्म नही हुआ || जब वो आता है   तब अच्छे और बुरे   दोनों मरते है पर अच्छे कम जो  शहीद कहलातें है || रात उसके साए लौटा दे वरना सुबह नही होगी बुरा किसी का ना जो जितना [...]

वृक्षकथा

साँसें दो पलों मे फ़ना, धर्म करे फ़ैसला कर्म क़ानून से जुड़ा, खून हिम्मत ले आया इंसानियत का रिश्ता अंजान है एक खुशी ना बॅट सकी दुनिया गोल है पर उसका सफ़र नही हर शुरुआत नयी भगवान भरोसा तो लाया पर दर्द ना बॅट पाया उसको ना मानो सही पर मान कर भूल जाना नही [...]

मायामग्न

मेरा धर्म हैं न्याय और न्याय करना मेरा कर्म वक़्त से बिछड़ी हुई तारीख हूँ रह नही सकता मैं वहाँ जहाँ वक़्त का अनुमान साँसों से हो ||    काल को याद किया वो फिर आया साथ प्रथम और अंतिम को लाया एक मेरे लिए खिलौना और एक कफ़न ले आया अब जब तक एक [...]